स्टॉप लॉस स्ट्रेटेजी

Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें

Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें

500 रुपये के साथ निवेश करना – जानें इसे करने के शीर्ष 5 तरीके

भले ही आपकी बचत या निवेश की मात्रा कितनी भी कम क्यों न हो, लेकिन आपको निवेश की प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरुआत करने की जरूरत है। यह प्रक्रिया आपको अपने जीवन के लक्ष्यों तक पहुँचने के लिए आर्थिक योजना की तैयारी में मदद करेगी।

Table of Contents
एक क्रमबद्ध निवेश अथार्त सिस्टेमिक इन्वेस्टमेंट (systematic investment) शुरू करें
500 रुपये से किसी कंपनी का शेयर खरीदें
एक Recurring Deposit (RD) Account शुरू करें
500 रुपये से एक पुस्तक में निवेश करें
खुद को शिक्षित करे
मुख्य तथ्य है

एक हजार मील की यात्रा एक कदम के साथ शुरू होती है।

जब मैं कॉलेज में था, मैं पैसे जमा करने और विभिन्न तरीकों से निवेश करने की कोशिश करता था। हालांकि मैं हर महीने 500 रुपये बचा सकता था, लेकिन मैं इसे नियमित रूप से निवेश करना सुनिश्चित करूंगा।

मार्किट एक्सपर्ट्स से शेयर बाजार सीखे सरल भाषा में

यह जानने के लिए कि आप अपने वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए किन निवेश साधनों में निवेश कर सकते हैं, आप Kredent Money App की मदद से कर सकते हैं।

इस ब्लॉग में, मैंने 500 रुपये प्रति माह की बचत के साथ ,मुख्य 5 निवेश विकल्पों का उल्लेख किया है,जिसने मेरे भविष्य के लक्ष्यों को बढ़ा दिया।

1. एक क्रमबद्ध निवेश अथार्त सिस्टेमिक इन्वेस्टमेंट (systematic investment) शुरू करें

इस श्रेणी के पीछे विचार बचत और निवेश की आदत विकसित करना है। सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) मूल रूप से म्यूचुअल Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें फंड स्कीम में किया गया निवेश है।

हालांकि, कुछ ऐसे तथ्य हैं जो आपको म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले जानना चाहिए।

अधिक संभावना है कि आपका पैसा बढ़ जाएगा क्योंकि ये फंड व्यवसायी फंड प्रबंधकों द्वारा प्रबंधित किए जाते हैं।

म्यूचुअल फंड को 500 / – रुपये से कम के साथ शुरू किया जा सकता है।

यदि आप म्यूचुअल फंड में निवेश तुरंत शुरू करना चाहते हैं, तो आप सिस्टेमेटिक इनवेस्टमेंट अथार्त निवेश योजना (SIP) पर हमारे लिखे हुए इस ब्लॉग को पढ़ सकते है । जानिए SIP में निवेश करना ,केवल 2 स्टेप में ।

SIP जल्दी शुरू करने का सबसे महत्वपूर्ण लाभ है कंपाउंडिंग (compounding),पावर ऑफ कंपाउंडिंग (power of compounding) के बारे में अधिक जानने के लिए ,यहाँ click करें -पावर ऑफ कंपाउंडिंग कैसे काम करता है ।

हमने कुछ म्यूचुअल फंड योजनाओं को नीचे सूचीबद्ध किया है, जिन पर आप स्वयं रिसर्च करके निवेश कर सकते हैं।

  • एचडीएफसी (HDFC)स्मॉल कैप फंड
  • डीएसपी (DSP) मिड कैप फंड
  • एचडीएफसी (HDFC)मिड कैप अवसर फंड
  • आदित्य बिड़ला सन लाइफ इक्विटी फंड
  • आईसीआईसीआई (ICICI)प्रूडेंशियल इक्विटी और डेट फंड

नोट: उपर्युक्त कोष में से कोई भी हमारे द्वारा निवेश किए जाने का सुझाव नहीं दिया गया है। ये आपके निवेश के लिए उपलब्ध विभिन्न योजनाओं के Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें बारे में जानकारी देने के लिए केवल उदाहरण हैं।

2. 500 रुपये से किसी कंपनी का शेयर खरीदें

मुझे पता है कि आप क्या सोच रहे होंगे, अगर मैं किसी कंपनी का सिर्फ एक हिस्सा खरीदूं तो क्या होगा?

किसी भी चीज़ से अधिक, यह आपको शेयर बाजारों का अनुसरण करने और सीखने के लिए प्रेरित करेगा। एक बार जब आप किसी चीज़ में अपने पैसे जमा कर लेते हैं, तो यह आपको वित्तीय बाज़ार के बारे में और जानने के लिए प्रेरित करेगा।

बाजारों और कंपनियों के बारे में समाचार ट्रैक करना, यह समझना कि वे कैसे काम करते हैं, एक बहुत अनिवार्य कला हैं , यदि आप शेयर बाजार से पैसा बनाना चाहते हैं। यह अपने आप में 500 रुपये का बड़ा उपयोग हो सकता है।

3. एक Recurring Deposit (RD) Account शुरू करें

अगर आप हर महीने 500 रुपये बचाने में सक्षम हैं लेकिन आपको शेयर बाजारों में कोई दिलचस्पी नहीं है। यदि आपको यह बहुत जोखिम भरा लगता है, तो आप बैंक या डाकघर में Recurring Deposit (RD) शुरू कर सकते हैं। इस तरह आपका पैसा बढ़ेगा और उसी समय सुरक्षित रहेगा।

भारत में लगभग सभी बैंक Recurring Deposit (RD) Account सेवाएँ प्रदान करते हैं।

प्रत्येक बैंक की वेबसाइटों पर Recurring Deposit Account खोलने के निर्देश दिए गए हैं। यह आसान और परेशानी मुक्त निवेश खाता है।

6-8% के बीच ब्याज दर भिन्न होती है जो घर पर पड़े एक आदर्श फंड से बेहतर है।

4. 500 रुपये से एक पुस्तक में निवेश करें

वैसे किताबें पढ़ना एक बहुत अच्छी आदत है। पढ़ने की आदत विकसित करना आगे जाकर काफी फ़ायदेमंद हो सकता है। किताबें पढ़ने से आप बहुत ज्ञान प्राप्त करते हैं, बहुत सारी चीजों के बारे में अलग-अलग दृष्टिकोण विकसित करते हैं, आप आत्मविश्वास से भरे होते हैं। अधिकांश सफल लोग पढ़ने की आदत के इस सामान्य लक्षण को शेयर करते हैं।

अपने आप में निवेश करने से बेहतर निवेश कुछ नहीं हो सकता। इसलिए यदि आप उपरोक्त विकल्पों के लिए तैयार नहीं हैं, तो आप हमेशा नई किताबें पढ़ने में निवेश कर सकते हैं।

स्पेसएक्स और टेस्ला के संस्थापक एलोन Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें मस्क जब बच्चे थे, तब वे बहुत पढ़ते थे। बाद में उन्होंने साक्षात्कार में कहा कि कुछ पुस्तकों ने उन्हें वास्तव में प्रेरित किया कि वे आज क्या कर रहे हैं।

5. खुद को शिक्षित करे

निवेश का एक अन्य तरीका छोटे प्रमाणित पाठ्यक्रम को ऑनलाइन ले कर अपने आप को शिक्षित करना है।

इंटरनेट के कारण, आजकल ऑनलाइन सीखने के बहुत सारे विकल्प हैं। आप इस पैसे का उपयोग एक कोर्स खरीदने और एक नए युक्ति सीखने में कर सकते हैं, जिसमें आप रुचि रखते हैं। यह आपकी पसंद का कुछ भी हो सकता है।

मुख्य तथ्य है

  • पैसे की रकम ज्यादा महत्व नहीं रखती है, लेकिन शुरुआती चीजें बहुत महत्व रखती हैं।
  • आरडी (RD)में निवेश की तुलना में एसआईपी (SIP) शुरू करने से आपको अधिक ब्याज मिलेगा।
  • यदि आप किसी भी निवेश के लिए तैयार नहीं हैं, तो आप हमेशा छोटे ऑनलाइन पाठ्यक्रमों को पढ़कर और ग्रहण कर स्वयं के ज्ञान को समृद्ध कर सकते हैं।

Subscribe To Updates On Telegram Subscribe To Updates On Telegram Subscribe To Updates On Telegram

Top 10 Chart Patterns you should know when Trading in the Stock Market

মিউচুয়াল ফান্ডে বিনিয়োগ করার সময় মানুষের করা ১০ টি ভুল

Elearnmarkets

Elearnmarkets (ELM) is a complete financial market portal where the market experts have taken the onus to spread financial education. ELM constantly experiments with new education methodologies and technologies to make financial education effective, affordable and accessible to all. You can connect with us on Twitter @elearnmarkets.

Numerology Rashifal 2023 : मूलांक 8 वालों के लिए कैसा रहेगा साल 2023?

मूलांक 8 वाले लोग इस वर्ष नौकरी और करियर को लेकर थोड़े परेशान रह सकते हैं, (Mulank 8 Bhavishyafal) वहीं थोड़ी परेशानी इन्हें आर्थिक रूप से भी झेलनी पड़ेगी. इसके अलावा कुछ चीजें अच्छी भी हो सकती है जानते हैं मूलांक 8 के भविष्यफल में.

By पंडित नितिन कुमार व्यास Last updated Nov 28, 2022 277 0

mulank 8 rashifal 2023

मूलांक 8 वालों के लिए साल 2023 काफी खास होने वाला है. (Numerology Prediction 2023) इस वर्ष इन्हें काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं लेकिन इनकी लाइफ में कुछ अच्छा भी होने के संकेत हैं.

मूलांक 8 वाले लोग इस वर्ष नौकरी और करियर को लेकर थोड़े परेशान रह सकते हैं, (Mulank 8 Bhavishyafal) वहीं थोड़ी परेशानी इन्हें आर्थिक रूप से भी झेलनी पड़ेगी. इसके अलावा कुछ चीजें अच्छी भी हो सकती है जानते हैं मूलांक 8 के भविष्यफल में.

मूलांक 8 वाले लोग कैसे होते हैं? (Nature of Mulank 8 People)

जिनका जन्म 8, 17, 26 तारीख को होता है उनका मूलांक 8 होता है. ये अंक शनि का प्रतिनिधित्व करता है. ये जीवन को संतुलित रखने में एक्सपर्ट होते हैं. ये जीवन के हर मोड़ से अच्छी तरह वाकिफ होते हैं. ये अपने परिवार का ध्यान रखते हीं और घरवालों के बेहद करीब होते हैं.

बिजनेस के क्षेत्र में इनके जैसा काम कोई नहीं कर सकता. ये अपने सहकर्मियों और पार्टनर्स का अधिक ध्यान रखते हैं. लोगों का दिल जीतने में ये एक्सपर्ट होते है. इन्हें नए लोगों से मिलना पसंद होता है. इस वर्ष इनके जीवन में क्या खास होने वाला है जानते हैं मूलांक 8 के भविष्यफल में.

मूलांक 8 भविष्यफल 2023 : करियर (Career Prediction of Mulank 8 in 2023)

करियर के लिहाज से ये वर्ष काफी उतार-चढ़ाव भरा साबित होगा. यदि आप बिना किसी योजना के कोई निर्णय अपने करियर के लिए लेते हैं तो उसके परिणाम आपको भुगतने पड़ेंगे. नौकरी बदलने की सोच रहे हैं तो ये बिल्कुल गलत समय है. इस वर्ष आप जहां काम कर रहे हैं वहीं पर काम करते रहें.

मूलांक 8 भविष्यफल 2023 : आर्थिक स्थिति (Financial Condition of Mulank 8 in 2023)

आर्थिक स्थिति के लिहाज से भी ये वर्ष आपके लिए ज्यादा खास नहीं है. इस वर्ष आपके खर्चों में बढ़ोतरी हो सकती है. इस वर्ष जितना हो सके उतना कम खर्च करने का प्रयास करें अन्यथा आप मुसीबत में पड़ सकते हैं.

इस वर्ष दूसरों से उधार लेने से बचें नहीं तो चुकाना भारी पड़ जाएगा. अपने खर्चों पर लगाम लगाकर रखें और जितना हो सके पैसा बचाकर रखें. महंगी चीजों को खरीदने से इस वर्ष परहेज करें.

मूलांक 8 भविष्यफल 2023 : लव एवं रिलेशनशिप (Love Prediction of Mulank 8 in 2023)

लव लाइफ की बात करें तो इस वर्ष आपको सावधानी बरतनी की जरूरत है. अपने पार्टनर के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं. अगर आप दोनों के बीच कोई गैप आता Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें है तो तीसरा व्यक्ति इसका फायदा उठा सकता है.

किसी तीसरे व्यक्ति की बातों पर भरोसा न करें. सावधान रहें रिश्ता खत्म करने की स्थिति में न आए. किसी भी रिश्ते को दूसरों की बातों मे आकर खत्म न करें. विवाहित लोगों के लिए भी ये एक औसत वर्ष रहेगा, थोड़ी नोक-झोंक के साथ ये वर्ष सुखमय बीतेगा.

मूलांक 8 भविष्यफल 2023 : पारिवारिक जीवन (Family Condition of Mulank 8 in 2023)

इस वर्ष आप ऊर्जावान महसूस करेंगे और इसकी वजह आपका परिवार होगा. अपने परिवार को पर्याप्त समय दें. परिवार के साथ कोई विवाद चल रहा है तो उसे जल्द से जल्द सुलझा लें. आने वाला समय परिवार के लिहाज से काफी अच्छा रहेगा.

आप साल 2023 की परेशानियों से निजात पाना चाहते हैं तो अपने परिवार को समय देना शुरू कीजिए. इस वर्ष आपका परिवार आपका पूरा सपोर्ट करेगा और आप हँसते-खेलते इस वर्ष को पार कर जाएंगे.

मूलांक 8 भविष्यफल 2023 : शिक्षा (Education prediction of mulank 8 in 2023)

शिक्षा के क्षेत्र में आपको इस वर्ष निराश हाथ लग सकती है लेकिन आपकी मेहनत इस निराश को दूर कर सकती है. इस वर्ष आपको आपका स्वास्थ परेशान कर सकता है जिसकी वजह से आपकी पढ़ाई प्रभावित हो सकती है.

पढ़ाई के साथ-साथ अपने स्वास्थ का ध्यान रखें. इस वर्ष ज्यादा मित्र न बनाए तो अच्छा रहेगा, क्योंकि मित्र की संगत से आप पढ़ाई से दूर हो सकते हैं. इस वर्ष यादि आपको शिक्षा में सफलता चाहिए तो आपको खुद पर ही विश्वास रखना होगा और खूब मेहनत करनी होगी.

मूलांक 8 वालों के जीवन में इस वर्ष काफी उतार-चड़ाव आने वाले हैं इसलिए धैर्य से काम लें हर मुश्किल आसान रहेगी. अपने परिवार को इस वर्ष समय दें वही आपकी ताकत बनेंगे.

भावनात्मक निवेश मजबूत करने का भी जरिया बनेगा GIS 23

उत्तर प्रदेश देश का सर्वाधिक आबादी (लगभग 25 करोड़) वाला राज्य है। अगर यह देश होता दुनिया में चीन, अमेरिका, इंडोनेशिया, पाकिस्तान और ब्राजील को छोड़ दें तो आबादी के लिहाज से यह छठां देश होता। यह आबादी यू ही नहीं है। लोग वहीं बसते हैं जहां आसानी से उनका गुजर-बसर हो सके। प्रकृति एवं परमात्मा की असीम अनुकंपा वाले उत्तर प्रदेश में कई वजहों से प्राचीन काल से ही इसकी क्षमता अभूतपूर्व रही है। यही वजह है कि भगवान श्रीराम एवं श्रीकृष्ण की यह धरती सभ्यताओं का भी पालना रही है। गणराज्यों के जरिये लोकतंत्र का प्रथम विकास का भी उत्तर प्रदेश साक्षी रहा है। हिमालय से निकलने वाली गंगा, यमुना एवं घाघरा जैसी सदानीरा नदियां, दुनिया की सबसे उर्वर भूमि में शुमार इंडो गंगेटिक बेल्ट का विस्तृत मैदान, 9 तरह की वैविध्यपूर्ण कृषि जलवायु इसकी वजहें रहीं हैं। यही वजह है कि उप्र का कृषि योग्य रकबा देश का महज 12 फीसद है, पर खाद्यान्न उत्पादन में इसका अकेले का योगदान 20 फीसद है। कई उत्पादोंके मामले में तो उत्तर प्रदेश देश में नंबर वन है।

तब जब खेती ही जीविका का एकमात्र जरिया थी, उस समय एक दौर ऐसा भी आया जब जमीन पर ज्यादा भार होने और कुछ बेहतरी की आश में लोगों ने दूर देश की राह पकड़ी। आज दुनिया के कई ऐसे देश हैं जिनमें अलग से एक भारत बसता है। वह भी पूरी जीवंतता के साथ। ये लोग भले परदेश या देश के महानगरों में रहते हों, पर अब भी अपनी जड़ों को भूले नहीं हैं। अपनी व अपने पुरखों की जन्मभूमि के लिए कुछ करना चाहते हैं। इसे भावनात्मक निवेश भी कह सकते हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हरदम इस Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें तरह के निवेश पर जोर रहा है।

उल्लेखनीय है कि 2 दिसंबर 2020 में मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रवासी उद्यमियों के एक सत्र को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था, उत्तर प्रदेश बहुत कुछ बदला है। तरक्की ने गति पकड़ ली है। इन्वेस्टर्स समिट और उसके बाद हुए दो ग्राउंड सेरमोनी के जरिये 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश आना इसका सबूत है। तरक्की की ये गति वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान भी नही रुकी। इस दौरान करीब 45 हजार करोड़ रुपये का विदेशी निवेश आया। यह प्रदेश की सरकार, उसकी नीतियों और कानून व्यवस्था पर लोगों के Stock Market में कैसे इन्वेस्ट करें भरोसे का प्रमाण है। आप तो अपने हैं। बदले माहौल में उत्तर प्रदेश में आपका स्वागत है। आइए और अपनी कर्मठता और अनुभव का लाभ अपने प्रदेश और अपनों लोगों को भी दीजिए। उन्होंने कहा था, अपनी जड़ों से लगाव स्वाभाविक है। अब समय आ गया है, एक बार जरूर अपनी माटी से अपने रिश्ते को मजबूत करें।
तबसे लेकर अब तक उत्तर प्रदेश प्रदेश में बहुत कुछ बदल चुका है। दूसरे इन्वेस्टर्स समिट के आयोजन के बाद अब ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (जीआइएस) की तैयारियां जोरों से चल रही हैं।
दुनियाभर के हर क्षेत्र के दिग्गज उद्यमियों को यूपी में निवेश का न्योता देने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत सरकार के दोनों उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक के अलावा कई अन्य वरिष्ठ मंत्री एवं अफसर विदेश के दौरे पर जाएंगे।
मुख्यमंत्री खुद दावोस (स्विट्जरलैंड) में 16 से 20 जनवरी तक आयोजित वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में भाग लेने जा रहे हैं। ऐसा करने वाले वह देश के पहले मुख्यमंत्री होगें। जनवरी में ही वह लंदन, न्यूयॉर्क और सैनफ्रांसिस्को भी जा सकते हैं। बाकी जिन देशों के प्रमुख शहरों में मंत्रियों एवं अधिकारियों की टीम दिसंबर से लेकर जनवरी के दौरान दौरा करेगी उनमें टोकियो, फ्रैंकफर्ट, ब्रुसेल्स, स्टॉकहोम, मेक्सिको सिटी, ब्यूनसआयर्स, साओपालो, सिडनी, सिंगापुर, लंदन, न्यूयार्क, सैनफ्रांसिस्को और दावोस आदि शामिल हैं। अब तक के कार्यक्रम के मुताबिक अधिकांश दौरे दिसंबर में ही हो जाएंगे।

जिन देशों में प्रदेश सरकार की ओर से रोड शो होने हैं, उनमें भी भारतीय मूल के बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपनी मेहनत, लगन के बूते वहां के रसूखदार लोगों में शामिल हैं। स्वाभाविक है ऐसे अपने लोगों से अपेक्षा भी अधिक रहेगी।
तैयारियां
जहां तक ग्लोवल इनवेस्टर्स समिट-2023 की तैयारियो की बात है तो प्रदेश सरकार ने अब तक जिन 40 देशों को समिट में आने के लिए आमंत्रित किया है उनमें से 21 की सहमति मिल चुकी है। सिंगापुर, यूनाइटेड किंगडम, मॉरिशस डेनमार्क, नीदरलैंडजैसे देश पार्टनर की भूमिका में होंगे।
पिछले दिनों दिल्ली के सुषमा स्वराज प्रवासी भवन में कई देशों के राजदूतों/उच्चायुक्तों एवं निवेशकों की मौजूदगी में समिट के कर्टेन रेजर सत्र को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ संबोधित कर चुके हैं। बीते 29 नवंबर को एसोसिएटेड चैंबर ऑफ कमर्स एंड इंडस्ट्री की ओर से लखनऊ में भी यूपी लीडरशिप समिट के नाम से एक आयोजन हो चुका है।
दिल्ली में आयोजित कर्टेन रेजर प्रोगाम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि आप क्यों उत्तर प्रदेश में निवेश करें। वजह, देश का सबसे लंबा नेटवर्क (लगभग 16 हजार किलोमीटर) उत्तर प्रदेश में है। यहां लखनऊ, वाराणसी एवं कुशीनगर तीन अंतरराष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे हैं। अयोध्या एवं जेवर में अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे निर्माणाधीन हैं। इनके बन जाने के बाद यह पांच अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों वाला पहला प्रदेश हो जाएगा। वाराणसी से लेकर हल्दिया तक देश का पहला जलमार्ग भी उत्तर प्रदेश में ही है। ईस्टर्न एवं वेस्टर्न कॉरिडोर का क्रमशः 57 एवं 8.5 हिस्सा यूपी में ही है। दोनों का जंक्शन दादरी में है। बंदरगाहों तक शीघ्र माल पहुचाने के लिए प्रदेश सरकार ड्राई पोर्ट्स का विकास कर रही है। इस क्रम में दादरी में मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक हब, बोड़ाकी में मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब, वाराणसी में 100 एकड़ में फ्रेट विलेज की स्थापना हो रही है। यमुना, लखनऊ-आगरा, पूर्वांचल एवं बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के अलावा गोरखपुर लिंक,एवं गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण हो रहा है। कई पाइपलाइन में हैं। इन सबके बनने के बाद उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे के नेटवर्क के मामले में भी देश में नंबर एक हो जाएगा। यह संभावनाएं उत्तर प्रदेश को निवेश के लिहाज से सबसे पसंदीदा जगह बनाती हैं। तरक्की की पसंदीदा जगह जब अपनी जड़ों से जुड़ाव वाली हो तो कौन नहीं लौटना चाहेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भावनात्मक निवेश की पहल प्रवासियों के दिलों तक पहुंच रही है। जीआईएस के पहले ही जिस तरह के रुझान और उत्साह को देखा जा रहा है, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि मुख्यमंत्री का विजन, इमोशन को जोड़कर यूपी को नम्बर वन इन्वेस्टमेंट डेस्टिनेशन बनाने में निश्चित ही कामयाबी के झंडे गाड़ेगा।

Chanakya Niti : ऐसी स्त्रियां इस काम के लिए कभी नहीं करती मना, रहती है हमेशा तैयार

Chanakya Niti : ऐसी स्त्रियां इस काम के लिए कभी नहीं करती मना, रहती है हमेशा तैयार

HR Breaking News (ब्यूरो) : पूरी दुनिया में आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र के सिद्धांत सबसे ज्यादा प्रासंगिक हैं. अगर चाणक्य के नीति शास्त्र के सिद्धांत को किसी ने आत्मसात कर लिया तो वह बेहतर इंसान बन सकता है और उसके जीवन में तमाम खुशियां आ सकती हैं.

चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र में धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष, परिवार, रिश्ते, मर्यादा, समाज, संबंध, देश और दुनिया के साथ ही कई और बातों का जिक्र किया है. ऐसे में चाणक्य ने पति-पत्नी और स्त्रीज-पुरुष के संबंधों को लेकर भी कई बातें कहीं हैं. इन बेहद जरूरी बातों को जानकर आप अपने जीवन और रिश्तों को बेहतर बना सकते हैं।


चाणक्‍य ने अर्थशास्‍त्र, राजनीति, कूटनीति के अलावा व्‍यवहारिक जीवन को लेकर भी कई नीतियां दी हैं. चाणक्य की ये नीतियां हर कदम पर हर मुश्किल वक्त और हालात से मनुष्य को निकालने के लिए काफी हैं.

आचार्य चाणक्य ने महिला और पुरुष के बीच संबंधों और रिश्तों को लेकर भी अपने विचार रखे हैं. उन्होंने बताया है कि स्त्रियां कैसा जीवनसाथी चाहती हैं. उनके विचार अपने जीवनसाथी को लेकर कैसे होते हैं. ऐसे में स्त्रियां अपने जीवनसाथी में कुछ खास गुणों की तलाश करती हैं और ये मिल जाए तो वह ऐसे मर्दों की तरफ खिंची चली आती हैं।


आचार्य चाणक्य कहते हैं कि जो पुरुष अहंकारी नहीं हो, सम्मान करना जानता हो, रहस्यों को अपने तक रखने की क्षमता रखता हो, स्त्रियों पर पाबंदी नहीं लगाता हो, सुरक्षा प्रदान करने की क्षमता रखता हो स्त्रियां ऐसे पुरुषों को खूब पसंद करती हैं और उसकी तरफ उनका झुकाव ज्यादा होता है।


कहते हैं अहंकार इंसान को खेखला बनाता है. महिलाओं को अहंकारी पुरुष कभी पसंद नहीं आते हैं. ऐसे में रिश्तों को अगर संभालकर रखना है तो अहंकार का त्याग करना होगा. पुरुष अगर अहंकार छोड़ अपनी गलतियों को स्वीकार करते हैं तो ऐसे में वह महिलाओं की पसंद बन जाते हैं।


कोई भी जितना सम्मान किसी और को देता है वह उतना ही सम्मान पाने का अधिकारी होता है. ऐसे में सम्मान देने से महिलाएं भी पुरुषों की तरफ आकर्षित होती हैं. पुरुष खासकर अगर रिश्तों में सम्मान का भाव नहीं रखते तो वह रिश्तों को संभालकर रखने में भी नाकामयाब होते हैं. ऐसे में पर नारी पर नजर रखने वाले पुरुष अपने संबंधों को खुद तोड़ने के जिम्मेदार होते हैं।


अगर कोई पुरुष स्त्री के रहस्यों को जानकर भी उसे किसी के सामने व्यक्त ना करे उसे अपने तक ही सीमित रखे तो ऐसे पुरुष बेहतर होते हैं. लेकिन पराई स्त्री के बारे में रहस्यों को अपने तक रखने वाले पुरुष और किसी से इस पर बात नहीं करने वाले पुरुषों पर महिलाएं तुरंत गुस्सा हो जाती हैं।


पाबंदी किसी को पसंद नहीं है चाहे वह महिला हो या पुरुष ऐसे में अगर कोई पुरुष किसी महिला पर कोई पाबंदी नहीं लगाए उसे अपने तरीके से जिंदगी जीने की आजादी दे तो ऐसे पुरुषों को प्रति स्त्रियों का आकर्षण बढ़ता है।


पुरुष शक्तिवान हो वह अपनी स्त्री को सुरक्षित रख सके. ऐसे पुरुषों को महिलाएं खूब पसंद करती हैं. वह अपनी स्त्री को या प्रेमिका को अच्छा माहौल दे, उसे खुश रखे ऐसे पुरुषों के प्रति खिंचाव महिलाओं का बढ़ता है।

रेटिंग: 4.70
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 267
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *